नमस्ते दोस्तों  पिछले दिनों से सभी bloggers के लिये एक नया mode आया हुआ है और लगभग सभी blogger ही befuddle है कि Blogging Vs YouTube में से किसको अपने लिये चुने| कौन है मेरे लिये सबसे बेस्ट| अब अगर दोनों में से किसी एक का चुनाव करने की बात की जाए तो ये आप खुद से ज्यादा बेहतर तो कोई नहीं जानता लेकिन फिर भी हम आपकी इस पोस्ट में मदद करने वाले है और बताने वाले है कि आप अगर दोनों में से ही किसी एक का चुनाव करते है तो आपके लिये सबसे अच्छा कौनसा रहेगा-Blogging Vs YouTube. 

 

Blogging Vs YouTube Me Se Aapko Kya Karna Chahiye ? Who Is The Best For Make Money Online In Hindi
Blogging Vs YouTube Me Se Aapko Kya Karna Chahiye ?

नमकार दोस्तों, एक बार फिर से स्वागत है आपका मेरी आज की इस पोस्ट में जिसमे हम बात करने वाले है कि Blogging Vs YouTube में से बढ़िया प्लेटफार्म कौनसा है और दोनों में क्या फर्क है। 

ब्लॉग और YouTube दोनों की अगर बात की जाए तो दोनों का use ही पैसे कमाने के लिये किया जा सकता है और दोनों से आप अच्छे पैसे कमा सकते है लेकिन फिर भी दोनों बहुत अलग प्लेटफार्म है और दोनों में बहुत फर्क है। 

ब्लॉग क्या है – ब्लॉग एक ऐसा प्लेटफार्म है जहाँ पर आप अपने peruser को एक बुक की तरह लिखकर जानकारी देते है और उसमे pictures का use करके आप उसे और भी appealing बनाते है जिससे कि आपके रीडर को आपके द्वारा दी जाने वाली जानकारी पसंद आ जाये और उसकी हेल्प भी हो जाए। 

YouTube क्या है – YouTube भी एक ब्लॉग जैसा ही होता है जिसमे आप वही जानकारी देते है जो आप ब्लॉग में देते है लेकिन यहाँ पर जानकारी को आप लिखकर नहीं बल्कि कैमरे के सामने बोलकर और उसे अपने PC के माध्यम से दिखाकर लोगों की हेल्प की जाती है| कहने का मतलब है कि YouTube में आप ठीक उसी तरह से जानकारी देते है जैसे कॉलेज में speaker देता है। 

दोनों में सबसे बड़ा फर्क यही है कि एक में किताब की तरह लिखना पड़ता है लेकिन दुसरे में बस आप अपने विडियो के माध्यम से बोलकर बता देते है और आपका काम खत्म। 

तो आपको सबसे अच्छा कौनसा लगा ? बोलकर बताना या लिखकर बताना ! 

यहाँ सभी की सोच एक जैसी नहीं हो सकती क्योंकि सिर्फ इतना जान लेने से निर्णय नहीं लिया करते अभी इसके बारे में आपको और जानकारी देने की जरुरत है। 

तो आइये दोस्तों इन दोनों के बारे में पहले कुछ और जानकारी ले लेते है कि दोनों में फर्क क्या है – 

#1. YouTube और publishing content to a blog दोनों में ही अगर बात करे तो आपसे पहले यहाँ लाखो ऐसे लोग मिलेंगे जो पहले से ही बहुत आगे जा चुके है और आपका rivalry भी इन्ही लोगों से होना है (घबराइये नहीं, आप ऐसा कर सकते है) 

#2. YouTube और publishing content to a blog दोनों से ही आप limitless पैसे कमा सकते है| मतलब कोई फिक्स नहीं है आप 1000 भी कमा सकते है और आप 100000 भी आसानी से कमा सकते है। 

#3. दोनों प्लेटफार्म ही आपको एक ही दिन में हीरो से जीरो बना सकते है। 

#4. दोनों में ही आप खुद को एक ब्रांड बना सकते हो इसके लिये दोनों में से किसी का भी use करे कोई फर्क नहीं पड़ता। 
#5. जहाँ तक मेरी राय ली जाए तो आप writing for a blog में YouTube के मुकाबले ज्यादा पैसे कमा सकते है। 

#6. कमाई की बात करे तो ब्लॉग में इसके ज्यादा choice नजर आते है YouTube में आप सिर्फ AdSense से ही पैसे कमा सकते है हालांकि ये बात अलग है कि आप जब खुद ब्रांड बन जाते है तो आप किसी कम्पनी की sponsorship ले सकते है या member का use भी कर सकते है लेकिन वो सब तब होगा जब आप ब्रांड बनेंगे। 

#7. Writing for a blog Vs YouTube दोनों मे ही आप Success हो जायेंगे इसकी कोई गारंटी नहीं है। 

#8. YouTube में आप अपनी पहचान जल्दी बनाते है लेकिन Blogging में ऐसा नहीं होता। 

#9. YouTube और writing for a blog दोनों में ही आपको हर बार Quality देनी होगी वरना आपके client आपको भूल सकते है।

#10. जब जिओ नहीं था तब ब्लॉग का महत्त्व ज्यादा था लेकिन जिओ के आने के बाद India में YouTube देखने वालो की संख्या भी बढ़ी है। 

#11. YouTube पर जो दिखता है वो आपको मिले ये जरुरी नहीं है लेकिन ब्लॉग्गिंग में हर blogger चाहता है कि उसके client कभी नेगेटिव कमेंट ना करे इसलिए हर बार वो अपनी पोस्ट को चेक करके ही distribute करता है। 

#12. YouTube पर आपका खुद का कोई control नहीं होता इसलिए आप अगर कोई गलती करते है तो आपको माफ़ी नहीं मिलेगी लेकिन ब्लॉग पर ऐसा नहीं होता है। 

#13. ब्लॉग पर आप कुछ भी करने को स्वतंत्र होते है लेकिन YouTube में आपको लिमिट में रहकर काम करना पड़ता है। 

#14. Promotion की बात करे तो YouTube के मुकाबले ब्लॉग में ज्यादा choice नजर आते है। 

#15. नेगेटिविटी फैलाने की बात की जाए तो YouTube मे ज्यादा है ब्लॉग के मुकाबले। 

#16. पैसे लगाने की बात की जाए तो दोनों ही कामो में आपको पैसे खर्च करने होंगे free कोई नहीं है। 

#17. दोनों ही "पहले सीखो फिर सिखाओ" नियम के तहत चलते है। 

तो आपने क्या सोचा !! Publishing content to a blog Vs YouTube में आपने किसको चुना ? अभी भी नहीं सोचा तो चलिए कुछ और बताते है जिससे आपको इनको और गहराई से समझने में मदद मिले| अब हम इन दोनों के फायदे और नुकसान के बारे में जानेंगे जिससे आप 100 प्रतिशत sure हो जायेंगे कि आपको किसको चुनना चाहिये। 

Publishing content to a blog Vs YouTube में से कौन है बेस्ट ? आइये जानते है । 

YouTube के फायदे और नुकसान 

#1.फायदा – YouTube पर काम करने का सबसे बड़ा फायदा ये है कि आप खुद को एक ब्रांड बहुत जल्दी बना सकते है क्योंकि आप YouTube पर अपने विजिटर के साथ लाइव बात कर रहे होते है इसलिए उनके दिमाक में भी आपकी एक अच्छी तस्वीर बनी होती है इसलिए हो सकता है कि वो आपको विडियो से भी ज्यादा पसंद करेे। 

जैसे मान लीजिये कि मैंने संदीप महेश्वरी सर का नाम लिया जो कि खुद YouTube पर बहुत ही पॉपुलर है इसलिए अगर आप भी उनको जानते है तो आपके दिमाक में भी उनका ख्याल आया होगा और आपके सामने भी उनके वीडियो की छवि आने लगेगी। 

Specialized Guruji का नाम भी आपने जरुर सुना होगा और उनके fans की बात करे तो YouTube पर भरे पड़े है लेकिन कुछ लोग है जो उनको नहीं पसंद करते या उनके विडियो को भी बकवास वीडियो बताते है लेकिन उनको कोई फर्क नहीं पड़ता। क्यों ? क्योंकि वो अब एक ब्रांड है और YouTube पर अपनी अलग पहचान रखते है। 

नुकसान – YouTube एक ऐसी दुनिया है जहाँ पर लाखो ऐसे लोग है जो पहले से इतने आगे जा चुके है कि आप अगर नए है तो आप उन Success लोगों की भीड़ में दिखेंगे भी नहीं और ये भीड़ ऐसी भीड़ है जहाँ पर आप खुद को खड़ा भी नहीं कर पायेंगे। लेकिन मज़ा तभी है जब आप इसी भीड़ में से निकलकर अपना नाम बनाते है। 

आपको भी यही करना होता है किसी तरह से आपको इस भीड़ में बनाये रखना होता है और अपना काम करते रहना पड़ता है। हर इन्तजार का आपको फायदा होता है और आप अगर सही से काम करते है तो एक ना एक दिन आप भी इन Success लोगों की भीड़ का हिस्सा होंगे। 

लेकिन इससे भी बुरी बात ये होती है जब हम कोशिश करने के बावजूद हार मान लेते है और इस भीड़ से दूर हो जाते है और एक बार दूर होना आपके करियर को बर्बाद कर सकता है। 

#2.फायदा – YouTube पर विडियो अपलोड करने की अगर बात करे तो अच्छी बात ये है कि आप सिर्फ विडियो अपलोड करे उसके बाद आपके लिये कोई काम नहीं है। अगर आप चाहे तो आप विडियो को share कर सकते है जिससे आपको फायदा मिलेगा। लेकिन आप अपने विडियो को बदल नहीं सकते। कहने का है कि आपको केवल एक बार ही अपने विडियो के लिये मेहनत करनी होती है। 

नुकसान – चाहे आप कितना भी अच्छा विडियो बनाये लेकिन आपका विडियो जब तक ट्रेंड में नहीं आयेगा आपको अच्छे व्यू नहीं मिलेंगे। YouTube में सबसे बड़ी प्रॉब्लम यही है कि आपका content बहुत अच्छा होने के बावजूद व्यू कम आते है इसका मुख्य कारण है कि YouTube में बहुत अधिक rivalry है। आपको एक ही टॉपिक पर बहुत सी विडियो मिल जायेगी। 

Extra'Tip – ये कहना तो नहीं चाहिये लेकिन India कि सच्चाई यही है कि आपको अगर बहत सारे व्यू लाने है तो आपको counterfeit विडियो बनाना होगा आप एक बार attempt करके देखे आपको बहुत व्यू मिलेंगे| क्योंकि India में free और counterfeit दोनों ही बहुत पसंद किये जाने वाले टॉपिक है। 

#3.फायदा – इसके अलावा YouTube की एक और अच्छी बात ये है कि आपको इसके लिये होस्टिंग का कोई चार्ज नहीं देना होता आपको अपना channel बनाना है बस और उसमे विडियो अपलोड करने है। YouTube पर होस्टिंग का space google का ही रहता है इसलिए आपको limitless space दिया जाता है। जैसे आपको blogger पर ब्लॉग बनाने के लिये limitless होस्टिंग मिलती है उसी तरह से आपको इसमें मिलती है। 

नुकसान – Google की होस्टिंग होने से नुकसान ये है कि channel भले ही आपका हो लेकिन इस पर कंट्रोल google का है इसलिए आप अगर गलती करते है तो आपका channel कभी भी डिलीट किया जा सकता है भले ही आप कितने भी बड़े ब्रांड क्यों ना हो क्योंकि google किसी भी गलती की माफ़ी नहीं देता। 

इसके अलावा आप अगर चाहते है कि मैं भी किसी के विडियो को duplicate करके अपने चैनल पर अपलोड कर दू तो समझिये ऐसा कभी नहीं हो सकता इसलिए आप ये गलती करने की कभी ना सोचे और अगर आप ये गलती करते है तो फिर हो सकता है कि आपका चैनल YouTube पर नजर ही ना आये। 

हालांकि ऐसा होता नहीं है क्योंकि google कभी गलत नहीं होता और google के जितने भी प्रोडक्ट है हम सभी इसका use करते है लेकिन आपके चैनल को डिलीट तभी किया जाता है जब आप उसके rules को follow नहीं करते है। 

इसके अलावा भी अगर YouTube के फायदे की बात करे तो YouTube को oversee करना बहुत आसान है बस आपको विडियो अपलोड करने है और आपको अपने content को share करना है बाकी का काम आप अपने watcher पर छोड़ दे। इसके अलावा इसको adsense से associate करना भी आसान है तो वही दूसरी और नया नियम आया है कि आपके एक साल में 1000 Subscriber और 4000 घंटे का watch टाइम होना जरुरी है तभी आप YouTube से पैसे कमा सकते है। 

एक और जरुरी बात ये है कि YouTube पर अच्छा content बहुत अहम होता है और आपका एक अच्छा विडियो आपको एक दिन में ही लाखो see दे सकता है। मैंने भी YouTube पर कभी काम नहीं किया लेकिन मेरे किसी दोस्त का एक विडियो था जो समझ लीजिये कि अनजाने में ही वायरल हो गया और उस विडियो पर एक ही दिन में एक लाख से ज्यादा व्यू आते हुए मैंने देखे हैै। 

Contributing to a blog करने के फायदे और नुकसान 

#1. फायदा-अगर आप blogger पर free Blog बनाते है तो फिर वो बात अलग है लेकिन आप अगर WordPress पर अपना ब्लॉग बनाते है तो आपको अपने ब्लॉग पर पूरा कंट्रोल मिलता है। आपके ब्लॉग का access आपके पास होता है इसलिए आप जब चाहे उसमे बदलाव कर सकते है। 

यहाँ तक कि आप जब चाहे अपने ब्लॉग को कहीं और move कर सकते है या फिर अपने डाटा को डाउनलोड कर सकते है। ब्लॉग को डिलीट कर सकते है। 

कहने का मतलब है कि ब्लॉग आपकी खुद की property है लेकिन YouTube में आप खुद के चैनल होते हुए भी आप उसके मालिक नहीं होते। आपसे आपकी ही property कभी भी छीन ली जा सकती है। 

नुकसान – जब ब्लॉग आपकी property है तो जाहिर सी बात है कि आपको उसे संभालकर रखने के लिये पैसे भी खर्च करने पड़ेंगे| अगर आप WordPress पर अपना ब्लॉग बनाते है तो आपको होस्टिंग और डोमेन दोनों के लिये समय पर पैसे खर्च करने होंगे। 

Additional Tip – अगर आप YouTube की तरह पैसे खर्च नहीं करना चाहते है तो आप Blogger पर अपना ब्लॉग बना लीजिये। हालांकि आपको वो सब तो नहीं मिलेगा जो आपको पैसे खर्च करके WordPress पर मिलेगा लेकिन फिर भी आप अपना ब्लॉग तो बना ही सकते है। 

#2 फायदा – अगर इनकम की बात करे तो Blogging में इसके alternative ज्यादा है। सबसे बड़ा प्लेटफार्म adsense तो है ही इसके अलावा भी और बहुत से promotions नेटवर्क है जिनसे आप ब्लॉग से पैसे कमा सकते है लेकिन YouTube पर अगर आप काम कर रहे है तो आपको सिर्फ adsense पर ही depend रहना पड़ेगा। 

हाँ ये बात अलग है कि आप उसमे भी एफिलिएट का use कर सकते है लेकिन उसका भी समय बहुत बाद में आता है। लेकिन ब्लॉग में ऐसा नहीं है। आप अगर अच्छे से काम करे तो सिर्फ एक महीने में ही ऑनलाइन पैसे कमाने वाले बन सकते है। 

इसके अलावा आपके पास अगर आपका adsense नहीं भी है तो फिर आप शुरू में Refer And Earn जैसी applications का use करके भी पैसे कमा सकते है या आपके पास अच्छा ट्रैफिक है तो बहुत से अच्छे एफिलिएट नेटवर्क है जो आपके ऑनलाइन पैसे कमाने के काम आ सकते है। 

ब्लॉग में YouTube के मुकाबले इनकम ज्यादा है। 

नुकसान – ब्लॉग पर promotions दिखाने के लिये market में बहुत से advertisements नेटवर्क है लेकिन ऐसे promotions नेटवर्क बहुत ही कम है जिन पर विश्वास किया जाए इसलिए सभी सिर्फ adsense पर ही भरोसा करते है और मेरे ख्याल से इससे अच्छा और कोई विकल्प अभी तक नहीं है। 

इसके अलावा एक नुकसान ये है कि adsense के नियम आप अगर फोलो नहीं करते है तो आपका account youtube की तरह कभी भी डिलीट किया जा सकता है और आपके अगर पैसे adsense में पड़े है तो वो भी आपको नहीं मिलते। इसलिए इसे मैं कभी भी safe इनकम नहीं मानता। 

आये दिन online media पर देखता हूँ कि किसी ना किसी का account object हो जाता है जो कि फिर से endorse करवाना बहुत मुश्किल है। मुश्किल नहीं नामुमकिन सा ही है। 

#3 फायदा – अगर आप YouTube पर काम करते है तो आपको जरुरी हो जाता है कि आपके पास एक अच्छा कैमरा हो और बढ़िया विडियो altering programming हो लेकिन अगर वही आप ब्लॉग पर काम करते है तो आपको इन सबकी कोई जरुरत नहीं है| ब्लॉग पर काम करना तो इतना आसान है कि आपके पास अगर मोबाइल और इन्टरनेट है तो भीं आप अपनी पोस्ट को distribute कर सकते है। 

जब मैंने अपना ब्लॉग शुरू किया था तो मैंने भी शुरुआत मोबाइल से ही की थी लैपटॉप तो बहुत बाद में आया था। वही दूसरी और आप YouTube में ये काम नहीं कर सकते आपको हर तरह का arrangement रखना जरुरी है क्योंकि आपको ये सब दिखाना पड़ता है। 

  • > uncommon – अगर आप YouTube में ज़रा सी भी गलती कर देते है तो सच कहता हूँ बहुत गालियाँ खानी पड़ती है। (Experience)

नुकसान – YouTube की तरह ब्लॉग्गिंग में भी बहुत contest है इसलिए आपको हर काम difficult work के साथ shrewd work भी करना पड़ता है। लेकिन आप अगर एक बार भीड़ से अलग होकर निकल गए तो फिर आपके लिये ब्लॉग्गिंग से आसान और कोई काम नहीं रहेगा। 

इसके अलावा blogger को सबसे बड़ा खतरा होता है हैकर का। आपकी साईट हर समय हैकर के नजर में बनी रहती है आपको अपने साईट की security से सम्बंधित हर काम को पहले से ही करके रखना पड़ता है नहीं तो हो सकता है कि आपकी एक गलती से आपके ब्लॉग का पूरा नुकसान हो जाए जबकि YouTube में ऐसा बिलकुल नहीं होता वो safe है क्योंकि उसकी security Google के हाथ में होती है। 

तो दोस्तों, ये थे Blogging Vs YouTube दोनों का use करने के फायदे और नुकसान। इन सभी को पढने के बाद जहाँ तक मेरी बात की तो मुझे ब्लॉग्गिंग के मुकाबले YouTube पर काम करना थोडा ज्यादा मुश्किल लग रहा है लेकिन कहते है ना जिस काम में आपको interest वो काम आसान हो जाता है इसलिए हो सकता है कि ये आसान हो और मैंने काम नहीं किया है तो मुझे मुश्किल लग रहा हो। 

लेकिन मुझसे कोई पूछेगा तो मैं writing for a blog ही suggested करूँगा। 

इसके अलावा एक और बात करनी भूल गया कि जो लोग YouTube और ब्लॉग दोनों पर काम करते है उनका क्या मानना है क्योंकि बहुत से ऐसे लोग है जो इन दोनों पर ही काम कर लेते है लेकिन मुझे ये समझ नहीं आता कि फिर वो टाइम oversee कैसे करते होंगे क्योंकि YouTube की एक अच्छी विडियो को alter करने में बहुत समय लगता है और आपको YouTube की rule को follow करते हुए सब काम करना होता हैै। 

इसके बारे में आपके क्या विचार है मुझे जरुर बताये कि क्या YouTube और ब्लॉग्गिंग दोनों एक साथ कीं जा सकती है। 

उम्मीद करता हूँ कि आपको मेरी आज की ये पोस्ट Blogging Vs YouTube में से कौन है बेस्ट पसंद आई होगी। आप मेरी इस पोस्ट को अपने दोस्तों से अपने web-based media पर share जरुर कर।